top of page

Aaj Phir Teri Yaad Aayi

By Kartik Gupta


Doston ke beech tanha rehne ki fursat kahan, laut gaye jab sab ghar, to teri yaad aayi. Naye shehero ki chamak bulati rahi humein, paaya jab andhera, to teri yaad aayi. Haste chehro ki bheed me khud ko bhula diya, dhoond na paye jab khud ki pehchaan, to teri yaad aayi. Jashn ke shor me sabke saath hum bhi chillate rahe, hua jab bhi sannata, to teri yaad aayi. Duur makaamo ki hod me, la-haasil is daud me, hamesha waqt ko dosh diya, thak ke rukna pada jab, to teri yaad aayi. Ab hoti hai tabiyat kharab, to koi nahi haal poochta hai, aaj hua thoda zukhaam, to phir teri yaad aayi.





[Hindi script]

आज फिर तेरी याद आई


दोस्तों के बीच तन्हा रहने की फुर्सत कहां,

लौट गए जब सब घर, तो तेरी याद आई।


नए शहरो की चमक बुलती रही हम,

पाया जब अँधेरा तो तेरी याद आई।


हँसते चेहरों की भीड में खुद को भुला दिया,

ढूंढ़ न पाए जब खुद की पहचान, तो तेरी याद आई।


जश्न के शोर में सबके साथ हम भी चिल्लाते रहे,

हुआ जब भी सन्नाटा तो तेरी याद आई।


दुउर मकामो की होड़ में, ला-हासिल इस दौड़ में, हमशा वक्त को दोश दिया,

ठक के रुकना पड़ा जब, तो तेरी याद आई।


अब होती है तबियत खराब, तो कोई नहीं हाल पूछता है,

आजहुआथोड़ाज़ुखाम, तोफिरतेरीयादआई।


By Kartik Gupta




0 views0 comments

Recent Posts

See All

Maa

By Hemant Kumar बेशक ! वो मेरी ही खातिर टकराती है ज़माने से , सौ ताने सुनती है मैं लाख छुपाऊं , वो चहरे से मेरे सारे दर्द पढती है जब भी उठाती है हाथ दुआओं में , वो माँ मेरी तकदीर को बुनती है, भुला कर 

Love

By Hemant Kumar जब जब इस मोड़ मुडा हूं मैं हर दफा मोहब्बत में टूट कर के जुड़ा हूं मैं शिक़ायत नहीं है जिसने तोड़ा मुझको टुकड़े-टुकड़े किया है शिक़ायत यही है हर टुकड़े में समाया , वो मेरा पिया है सितमग

Pain

By Ankita Sah How's pain? Someone asked me again. " Pain.." I wondered, Being thoughtless for a while... Is actually full of thoughts. An ocean so deep, you do not know if you will resurface. You keep

bottom of page