• hashtagkalakar

A Broken Heart

By Surya Narayanan R


Like earthquakes, your words

Split my heart apart.

Is this a heartbreak?

There is pain but no red.

Is this how hearts break?

What breaks can be fixed but

Not as easy as a vessel we are.

If another chance exists, I’d even

Turn time to tell you

I’m sorry, I went too far.




It wasn’t a fight until truths spilled.

Can’t bring back what lies killed.

Don’t know what got to my head.

Ever since you weren’t in my bed,

I blamed the moon for glittering

The tears that I sed.

Could fate not want us to end up together?

We looked lovely. Didn’t we?

Hope you still remember how we

Wanted to have

Our silly little dream,

Together, forever.


By Surya Narayanan R





1 view0 comments

Recent Posts

See All

By Priya Diwan ये रिश्ते बड़े ही नाज़ुक होते हैं, उम्मीद की राह पर चलते रहते हैं। ऐसा कोई रिश्ता नहीं जहां उम्मीद ना हो, और उन्हीं उम्मीदों के टूटने का गम ना हो। जीवन साथी से हर राह पर साथ होने की उम्

By Priya Diwan बैठी थी मैं अपने सारे गमों को छुपाए, हाल क्या है मेरा कोई जान ना पाए। चाह तो दिल खोल कर चिल्लाने की थी, पर हालत मेरी बेबसी की थी। समझाना मुश्किल था लोगों को, जो मैं खुद भी नहीं समझ पा र

By Ankit Kumar Roy ऐ मैखाने में लगी गुलाबों, तुम दिल्लगी न करो, कोई आंधी सा आएगा ,और तोड़ के चला जायेगा। तुम्हारे खुशबुओं की चाह नहीं यहां किसी को भी, यहां तो बस तुम्हारे पंखुड़ियों के प्यासे आते हैं।